Educational

दशम गुरु गोबिंद सिंह ने क्षत्रिय तेज को फिर से जगाया : डॉ. चौहान

करनाल। खालसा पंथ की स्थापना करते हुए दशमेश पिता श्री गुरु गोविंद सिंह जी ने एक साथ कई सामाजिक रूढ़ियों पर आघात किया था। उनका मक़सद भारतीय समाज में कमज़ोर पड़ गए संघर्ष के सामर्थ्य अर्थात क्षात्र तेज़ को नए सिरे से प्रबल कर समाज को उस दौर के कट्टर और धर्मांध शासकों का मुक़ाबला …

दशम गुरु गोबिंद सिंह ने क्षत्रिय तेज को फिर से जगाया : डॉ. चौहान Read More »

केवल प्राचीनतम ही नहीं अपितु सबसे वैज्ञानिक राष्ट्र के नागरिक होने पर गर्व करें : डॉ. चौहान

गीता सीनियर सेकेंडरी स्कूल, राहडा में गणतंत्र दिवस का आयोजन असंध । गणतंत्र दिवस पर होने वाले प्रत्येक ध्वजारोहण प्रत्येक आयोजन प्रत्येक ताली प्रत्येक गीत पर सबसे पहला अधिकार बलिदानी वीरों का है जिन्होंने अपना सर्वस्व इस देश पर न्योछावर कर दिया। राणा स्थित गीता सीनियर सेकेंडरी स्कूल में गणतंत्र दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में …

केवल प्राचीनतम ही नहीं अपितु सबसे वैज्ञानिक राष्ट्र के नागरिक होने पर गर्व करें : डॉ. चौहान Read More »